Waqt Shayari in Hindi - वक़्त शायरी

Waqt Shayari in Hindi

(1)

जब आप का नाम जुबान पर आता हैं,
पता नहीं दिल क्यों मुस्कुराता हैं,
तसल्ली होती है मन को कोई तो है अपना,
जो हँसते हुए हर वक्त याद आता हैं…


(2)

ज़मीन पर मेरा नाम वो लिखते और मिटाते हैं,
वक्त उनका तो गुजर जाता है,
मिट्टी में हम मिल जाते हैं…


(3)

पैसा कमाने के लिए इतना वक़्त खर्च ना करो कि,
पैसा खर्च करने के लिए ज़िन्दगी में वक़्त ही न मिले…


(4)

मेरे साथ बैठ कर वक़्त भी रोया…
एक दिन बोला !!
बन्दा तू ठीक है मैं ही ख़राब चल रहा हूँ…


(5)

Waqt badal jata hai log badal jate hai,
Sb ek dusre ko bhul jate hai,
Nahi sikha humne waqt ke sath badalna,
Shayad isliye aap hume yaad aate hai…

(6)

अभी तो थोडा वक्त हैं,
उनको आजमाने दो,
रो-रोकर पुकारेंगे हमें,
हमारा वक्त तो आने दो…


(7)

कल मिला वक़्त तो ज़ुल्फ़ें तेरी सुलझा लूंगा,
आज उलझा हूँ ज़रा वक़्त के सुलझाने में…

Waqt Aayega Shayari

(8)

वक़्त अजीब चीज़ है वक़्त के साथ ढल गए,
तुम भी बहुत करीब थे अब बहुत बदल गए…


(9)

जो रोऊंगा तो पलकों पे नमी रह जायेगी,
ज़िन्दगी बस नाम की जिन्दगी रह जायेगी,
ये नहीं कि तुम बिन जी न पाउँगा,
हाँ मगर जिन्दगी में हर वक्त एक तेरी कमी रह जायेगी…


(10)

रोने से किसी को पाया नहीं जाता,
खोने से किसी को भुलाया नहीं जाता,
वक़्त सबको मिलता है ज़िन्दगी बदलने के लिए,
पर ज़िन्दगी नहीं मिलती वक्त बदलने के लिए…