Vishwas Shayari in Hindi - विश्वास पर शायरी

Vishwas Shayari in Hindi
विश्वास पर शायरी

(1)
आई है सुबह वो रोशनी लेके,
जैसे नए जोश की नयी किरण चमके,
विश्वास की लौ सदा जला के रखना,
देगी अंधेरों में रास्ता आपको दीया बनके…


(2)
यूं ही बेवजह बयां ना कर हर किसी से,
अपने दिल की बात ख़ामोश रह कर देख,
अपने चाहने वालों की भीड़ में,
कि आखिर तुझे समझता कौन है…


(3)
क़त्ल न करो, बस मोहब्बत करके छोड़ दो
किसी दिलजले से पूछ लो,
ये भी सज़ा-ए-मौत है…


(4)
ऐ खुदा तेरे दरबार में मेरी इबादत रखना,
में रहू या ना रहूं मेरी महोबत
को सलामत रखना…


(5)
ज़िन्दगी में मैंने कितना वक्त बर्बाद कर दिया,
उसकी खुशी के लिए उसको आबाद कर दिया,
उसको तो ज़रूरत थी मेरा साथ सिर्फ कुछ पल के
लिए, और मैंने कमबख्त अपनी पूरी ज़िन्दगी उसके
नाम कर दिया…