Sports Shayari in Hindi - खेल पर शायरी

Sports Shayari

Sports Shayari in Hindi | खेल पर शायरी

छोटी सी मुसीबत से जो घबरा जाए वो अनाड़ी होता है, हार को भी सामने देखकर जो लड़ जाए वो खिलाड़ी होता है…
आज़ हारे हो तो कल जीत भी होगी, एक हार से निराश मत होना, खेलोगे तो जीतने के कई मौक़े मिलेंगे, ज़िंदगी के खेल में कभी उदास मत होना…
बच्चों को खेलता देख कर, याद आ जाते है बचपन के वो सुनहरे दिन…
खेलों को मज़हब के चश्मे से मत देखो, इसमें प्यार और भाईचारा छुपा है, खेलों में सिर्फ़ हार और जीत मत देखो…
चलती हवा के कान में, जलते हुए दीपक ने ये बात कही, मेरे हौसले के आगे तेरी कुछ भी औकात नहीं…
विश्वास कोई तोड़ने की चीज नहीं है, तोड़ना ही है तो खेल में किसी का रिकॉर्ड तोड़ो…
Read More - Rajasthani Shayari
हर रोज़ खिलाड़ियों के नए कीर्तिमान, अखबारों में प्रकाशित हो रहे हैं, देश के लिए यह ख़ुशी की बात है, खेलों की ओर युवा आकर्षित हो रहे हैं…
खेल के हार में भी जीतने का आस होता है, अगर खिलाड़ी को खुद पर विश्वास होता है…
हर बार जीत कर ही नहीं, कई बार हार कर भी, बहुत कुछ जीता जा सकता है…
क्यों करते है गुनाह लोग, केवल बेटे के शौक में, कितने मेडल मार दिए, जीते जी ही कोख में….
Khel Shayari

Sports Shayari Status in Hindi

खेल में जीत के लिए के लिए पागल तो होना पड़ता है, मेहनत तो करनी पड़ती है पर किस्मत को कोसना नही पड़ता है…
जो दिमाग और शक्ति को सही जगह लगाते है, सिर्फ वही अपनी जिदंगी में खिलाड़ी बन पाते है…
Read More - Guru Shayari
माना तेरे और मेरे बीच में कुछ दूरी है, पर दुनिया के कुछ खेल में हार जाना ही जरूरी है…
गुस्सा और ये अंहाकर मुझे क्यों दिखाते हो, दम इतना है तो किसी खेल में क्यों नहीं दिखाते हो…
कुछ देर की खामोशी थी कानों में फिर से शोर आएगा, तुम्हारा तो सिर्फ वक्त था हमारा तो दौर आएगा…