Sadgi Shayari in Hindi - सादगी पर शायरी

सादगी शब्द का प्रयोग किसी के व्यक्तित्व के लिए किया जाता है। दूसरे शब्दों में सादगी साधारण और बिना दिखावटी जीवन को कहा जाता है। कहते हैं सादगी से जीवन जीना भी अपने आप में एक बड़ा काम है। तो चलिए इस पोस्ट के माध्यम से पढ़ते हैं कुछ ऐसी ही शानदार शायरियां।

Sadgi Shayari
सादगी पर शायरी

(1)
बयां कैसे करे उसकी सादगी को हम,
पर्दानशीं थे हमी से और निगाहें भी हमीं पर थीं 🥰🥰


(2)
इस सादगी पे कौन न मर जाए ऐ ख़ुदा
लड़ते हैं और हाथ में तलवार भी नहीं…


(3)
सादगी अगर हो लफ्जो में यकीन मानो,
प्यार बेपनाह, और दोस्त बेमिसाल मिल ही जाते हैं ❣️


(4)
लाखो अदाओ की अब जरुरत ही क्या है
जब वो फिदा ही हमारी सादगी पर है…


(5)
हम पर यूँ बार बार इश्क का इल्जाम न लगाया कर,
कभी खुद से भी पूंछा है इतनी खूबसूरत क्यों हो ❣️❣️


(6)
यह मासूमियत यह भोलापन यह सादगी तेरी,
मुझको हर अदा से अब सताने लगे हो तुम…
क्या इस बात का तुम्हें एहसास है जान,
मेरे हर शेर में हर ग़ज़ल में आने लगे हो तुम…


(7)
जिस तरह तुझसे हम बिछड़े थे,
कि तुझे अलविदा भी ना कह सका,
तेरी सादगी में इतना फरेब था,
कि तुझे बेवफा भी ना कह सका 💔💔

Sadgi ( Simplicity ) Shayari Status in Hindi

(8)
दिलख़ुशी का भी नाम है हमारी, सादगी भी कमाल है
हम शरारती भी बेइंतेहा हैं और तन्हा भी बेमिसाल हैं…


(9)
मैं तुम्हारी सादगी की क्या मिसाल दूँ
इस सारे जहां में बे-मिसाल हो तुम…


(10)
हुस्न वालों को संवरने की क्या जरूरत है,
वो तो सादगी में भी क़यामत की अदा रखते हैं ❣️❣️


(11)
मेरी सादगी ही गुमनाम में रखती है मुझे,
जरा सा बिगड़ जाऊं तो मशहूर हो जाऊं…


(12)
कैसे बयान करें सादगी अपने महबूब की,
पर्दा हमीं से था मगर नजर भी हमीं पे थी…


(13)
मुझे ज़िंदगी का इतना तजुर्बा तो नहीं है दोस्तों,
पर लोग कहते हैं यहाँ सादगी से कटती नहीं ❣️


(14)
इस सादगी पे कौन न मर जाए ऐ ख़ुदा,
लड़ते हैं और हाथ में तलवार भी नहीं…


(15)
जबीं पर सादगी, नीची निगाहें, बात में नरमी,
मुखातिब कौन कर सकता है तुमको लफ्जे-कातिल से 🥰