Rishte Shayari in Hindi - रिश्ते शायरी

Rishte Shayari

(1)
रिश्तों में प्यार की मिठास रहे,
कभी न मिटने वाला एहसास रहे,
कहने को छोटी सी हैं ये जिन्दगी,
लम्बी हो जाए अगर अपनों का साथ रहे…


(2)
मशहूर होना पर मगरूर न होना,
कामयाबी के नशे में चूर न होना,
मिल जाए सारी कायनात आपको,
मगर इसके लिए कभी ‘अपनों’ से दूर न होना…


(3)
रिश्ता वो नहीं होता जो दुनिया को दिखाया जाता है,
रिश्ता वह होता है,जिसे दिल से निभाया जाता है,
अपना कहने से कोई अपना नहीं होता,
अपना वो होता है जिसे दिल से अपनाया जाता है…


(4)
हर रिश्ते में विश्वास रहने दो,
जुबान पर हर वक्त मिठास रहने दो,
यही तो अंदाज़ हैं जिंदगी जीने का,
ना खुद रहो उदास ना दूसरों को रहने दो…


(5)
जिंदगी में आपकी एहमियत हम आपको बता नहीं सकते,
दिल में आपकी जगह हम आपको दिखा नहीं सकते,
कुछ रिश्ते बेहद अनमोल होते हैं,
इससे ज्यादा हम आपको समझा नहीं सकते…

(6)
मुस्कुराहट का कोई मोल नहीं होता,
रिश्ते का कोई तोल नहीं होता,
इंसान तो मिल जाते है हमें हर मोर पर,
लेकिन हर कोई आप कि तरह अनमोल नहीं होता…


(7)
लगे ना नज़र इस रिश्ते को जमाने की,
पड़े ना जरुरत कभी एक दूसरे को मनाने की,
आप ना छोड़ना मेरे साथ वरना,
तमन्ना ना रहेगी फिर दोस्त बनाने की…


(8)
हर पल के रिश्ते का वादा हैं तुमसे,
अपनापन कुछ इतना ज्यादा हैं तुमसे,
कभी ना सोचना की भूल जाएंगे तुम्हें,
जिंदगी भर का साथ देगे ये वादा हैं तुमसे…


(9)
एक मिनट लगता हैं,
रिशतो का मज़ाक उड़ाने में,
और सारी उम्र बीत जाती हैं,
एक रिश्ते को बनाने में…


(10)
अपने गमो की तू नुमाइश ना कर,
अपने नसीब की यूँ आज़माइश ना कर,
जो तेरा हैं वो खुद तेरे दर पे चल के आएगा,
रोज उसे पाने की ख़्वाहिश ना कर