Rishta Shayari in Hindi - रिश्ता शायरी

Rishta Shayari in Hindi

(1)

दर्द से रिश्ता पुराना रहा,
हर कदम एक नया फ़साना रहा,
किसे कहे ये दिल अपना?
यहाँ तोह हर अपना बेगाना रहा….


(2)

रिश्ता वो नहीं जिसमे जीत और हार हो,
रिश्त वो नहीं जिसमे इजहार और इंकार हो,
रिश्ता तो वो है जिसमे किसी की..
उम्मीद ना हो लेकिन फिर भी उसका इन्तेजार हो…. 😊😊😊


(3)

तेरे दिल का मेरे दिल से, रिश्ता अजीब है,
मीलों की दूरियां, और धड़कन करीब है…


(4)

बारिश में रख दूँ जिंदगी को ताकि धुल जाए पन्नो की स्याही,
ज़िन्दगी फिर से लिखने का मन करता है कभी-कभी…. 😇😇😇


(5)

रिश्ता हमारा इस जहां में सबसे प्यारा हो,
जैसे जिंदगी को सांसों का सहारा हो,
याद करना हमें उस पल में..
जब तुम अकेले हो और कोई ना तुम्हारा हो…


(6)

रिश्ता ऐसा हो जिस पर नाज़ हो,
कल जितना भरोसा था उतना ही आज हो,
रिश्ता सिर्फ वो नहीं जो ग़म या ख़ुशी में साथ दे,
रिश्ते तो वो हैं जो हर पल अपनेपन का एहसास दें….


(7)

सफ़र तुम्हारे साथ बहुत छोटा है मगर,
यादगार हो गये तुम अब ज़िंदगी भर के लिए…


(8)

दिल कभी दिल से जुदा नही होते,
यूही हम किसी पर फिदा नही होते,
प्यार से बड़ा तो दोस्ती का रिश्ता है,
क्यूकी दोस्त कभी बेवफा नही होते….


(9)

उन्हें शोक था अखबारों के पन्नो पर बने रहने का,
वक़्त ऐसा गुज़रा की वह रद्दी के भाव बिक गये​…


(10)

प्यार आज भी तुझसे उतना ही हैं,
तुझे अहसास भी नही, और हमने जताना भी छोड़ दिया​…. 😢😢😢