Political Shayari in Hindi - राजनीति पर शायरी

Political Shayari in Hindi

(1)

सियासत की रंगत में ना डूबो इतना
कि वीरों की शहादत भी नजर ना आए
जरा सा याद कर लो अपने वायदे जुबान को
गर तुम्हे अपनी जुबां का कहा याद आए…. 😢😢😢


(2)

न मस्जिद को जानते हैं
न शिवालो को जानते हैं
जो भूखे पेट हैं
वो सिर्फ निवालों को जानते हैं…..


(3)

सियासत को लहू पीने की लत है
वरना मुल्क में सब खैरियत है…..


(4)

रहनुमाओं की अदाओं पे फ़िदा है दुनिया
इस बहकती हुई दुनिया को सँभालो यारो…..


(5)

कीमत तो खूब बढ़ गई दिल्ली में धान की
पर विदा ना हो सकी बेटी किसान की….. ☹☹☹


(6)

मैं अपनी आँख पर चशमाँ चढ़ा कर देखता हूँ
हुनर ज़ितना हैं सारा आजमा कर देखता हूँ
नजर उतना ही आता हैं की ज़ितना वो दिखाता है
मैं छोटा हू मगर हर बार कद अपना बढ़ा कर देखता हूँ…


(7)

इस नदी की धार में ठंडी हवा तो आती हैं
नाव जर्जर ही सही लहरों से टकराती तो हैं….

Rajneeti Shayari

(8)

नजर वाले को हिन्दू और मुसलमान दिखता हैं
मैं अन्धा हूँ साहब मुझे तो हर शख्स में इंसान दिखता हैं….


(9)

जहाँ सच हैं वहाँ पर हम खड़े हैं
इसी खातिर आँखों में गड़े हैं…..


(10)

दोस्ती हो या दुश्मनी सलामी दूर से अच्छी लगती हैं
राजनीति में कोई नही सगा ये बात सच्ची लगती हैं…. 💪💪💪