Pehle Pyar Ki Shayari - पहले प्यार की शायरी

Pehle Pyar Ki Shayari

(1)
धडकते हुए दिल का करार हो तुम,
इन सजी महफिलों की बहार तो तुम,
तरसती हुयी निगाहों का इंतज़ार हो तुम,
मेरी जिंदगी का पहला प्यार हो तुम…


(2)
पहले प्यार में अक्सर दिल बड़ा मचलता है,
बहुत कुछ कहना होता है पर कहने से डरता है….


(3)
नजरों से नजर मिल जाये तो हटती नही है,
पहले प्यार की यादें दिल से मिटती नही है….


(4)
तुझसे रु-ब-रु होकर बातें करूँ,
निगाहें मिलाकर वफ़ा के वादे करूँ,
थाम कर तेरा हाथ बैठ जाऊं तेरे सामने,
तेरी हसीन सूरत के नज़ारे करूँ…


(5)
माना उसके संग घर बसाया नही है,
पर उसकी प्यारी यादों को दिल से भुलाया नही है…


(6)
कैसे करते इजहार अपने प्यार का
था सवाल एक तरफे प्यार का,
पर कभी तो होना था इजहार प्यार का
था सवाल पहले प्यार का…


(7)
चले गये है दूर कुछ पल के लिए,
मगर करीब है हर पल के लिए,
कैसे भुलायेंगे आपको एक पल के लिए
जब हो चुका है प्यार उम्र भर के लिए….


(8)
पहला प्यार सच्चा हो तो खुशियों से भर देती है,
पहला प्यार गलत हो तो जिन्दगी भर गम देती है….


(9)
चाहत हुई किसी से तो फिर बेइन्तेहाँ हुई,
चाहा तो चाहतों की हद से गुजर गए,
हमने खुदा से कुछ भी न माँगा मगर उसे,
माँगा तो सिसकियों की भी हद से गुजर गये…


(10)
कुछ ख़ास जानना है तो प्यार कर के देखो,
अपनी आँखों में किसी को उतार कर के देखो,
चोट उनको लगेगी आँसू तुम्हें आ जायेंगे,
ये एहसास जानना है तो दिल हार कर के देखो…