Kismat Shayari in Hindi - किस्मत शायरी

Kismat Shayari in Hindi

(1)
तक़दीर लिखने वाले एक एहसान कर दे,
मेरे दोस्त की तक़दीर में एक और मुस्कान लिख दे,
न मिले कभी दर्द उनको,
तू चाहे तो उसकी किस्मत मे मेरी जान लिख दे…


(2)
ये लकीरें ये नसीब ये किस्मत सब फ़रेब के आईनें हैं,
हाथों में तेरा हाथ होने से ही मुकम्मल ज़िंदगी के मायने हैं…

2 Lines Kismant Shayari

(3)
जीतेंगे हम ये ख़ुद से वादा करों,
कोशिश हमेशा ज्यादा करों,
किस्मत भी रूठे पर हिम्मत न टूटे,
मजबूत इतना अपना इरादा करो…


(4)
रात नहीं ख्वाब बदलता है,
मंजिल नहीं कारवाँ बदलता है,
जज्बा रखो जीतने का क्यूंकि,
किस्मत बदले न बदले ,
पर वक्त जरुर बदलता है…


(5)
बूझी शमां भी जल सकती है,
तूफ़ान से कश्ती भी निकल सकती है,
होके मायूस यूँ ना अपने इरादे बदल,
तेरी किस्मत कभी भी बदल सकती है…

किस्मत शायरी

(6)
बंद किस्मत के लिये कोई ताली नही होती,
सुखी उम्मीदों की कोई डाली नही होती,
जो झुक जाए माँ -बाप के चरणों में,
उसकी झोली कभी खाली नही होती…


(7)
लग जा गले यह रात फिर न आएगी,
किस्मत भी हमको शायद फिर ना मिलाएगी,
बाकी है बस चंद सांसे इस दिल में,
रूह भी ना जाने कैसे तेरे बिन रह पाएगी…

Meri Kismant Shayari

(8)
आपको याद करना मेरी आदत बन गई है,
आपका खयाल रखना मेरी फितरत बन गई है,
आपसे मिलना ये मेरी चाहत बन गई है,
आपको प्यार करना मेरी किस्मत बन गई है…


(9)
उसके बिन चुप-चुप रहना अब अच्छा नही लगता हैं,
खामोशी से एक दर्द को सहना अच्छा नही लगता हैं,
उसका मिलना न मिलना तो किस्मत की बात है,
पर पल-पल उसकी याद में रोना अब अच्छा नही लगता हैं…


(10)
तक़दीर लिखने वाले एक एहसान कर दे,
मेरे दोस्त की तक़दीर में एक और मुस्कान लिख दे,
न मिले कभी दर्द उनको,
तू चाहे तो उसकी किस्मत मे मेरी जान लिख दे…