इत्तेफाक शायरी – Ittefaq Shayari In Hindi

ittefaq shayari

Ittefaq Shayari in Hindi – जीवन में कुछ भी बिना इत्तेफाक के नहीं होता, ये सत्य है और दोस्तों कहते हैं कि यह बिलकुल सही भी है। इत्तेफाक एक ऐसा शब्द है जिसमें जीवन के हर पल की रहस्यमयी कहानियाँ छिपी होती हैं, जैसे कि इत्तेफाक से प्यार हो जाना या प्यार का इजहार हो जाना। इत्तेफाक ही हमारे जीवन का अटूट हिस्सा है, जिसके बिना हमारी जिंदगी अधूरी सी महसूस होती।

इत्तेफाकों के संदर्भ में हमें अक्सर अनजाने में अच्छाई और बुराई का अहसास होता है। यह सिखाता है कि हर घटना, हर मिलन और हर विचार किसी न किसी कारणवश होता है, और हमें इसे स्वीकार करके आगे बढ़ना चाहिए। इसलिए, इत्तेफाक का संबंध हमारे जीवन के सफर का महत्वपूर्ण हिस्सा है। इसलिए आज हम आपके लिए कुछ ऐसी ही इत्तेफाक शायरी का संग्रह लाए हैं, जिन्हें आप डाउनलोड और शेयर भी कर सकते हैं।

इत्तेफाक शायरी Ittefaq Shayari In Hindi

  • फिर यूँ हुआ कि जब भी
    जरुरत पड़ी मुझे,
    हर शख्स इत्तफाक से
    मजबूर हो गया।

  • क्या हसीन इत्तेफाक़ था तेरी गली में आने का,
    किसी काम से आये थे और किसी काम के ना रहे।

  • वो प्यार जो हकीकत में प्यार होता है,
    जिन्दगी में सिर्फ एक बार होता है,
    निगाहों के मिलते मिलते दिल मिल जाये,
    ऐसा इतेफाक सिर्फ एक बार होता है।

  • दोस्ती तो बस एक इत्तेफ़ाक़ है,
    ये तो दो दिलों की मुलाक़ात है,
    दोस्ती नहीं देखती दिन और रात,
    इसमें तो सिर्फ ईमानदारी और जज़्बात है।

  • इत्तिफ़ाक़ समझो या मेरे दर्द की हकीक़त,
    आँख जब भी नम हुई वजह तुम ही निकले।

  • होश आये तो क्यों कर तेरे दीवाने को,
    एक जाता है तो दो आते हैं समझाने को।

  • जल रही है सिगरेट खत्म हो रही जिन्दगी,
    अजीब इत्तेफाक है ये धीरे धीरे ही सही।

  • इसे इत्तेफाक समझो या दर्द भरी हकीकत,
    आँख जब भी नम हुई वजह कोई अपना ही था।

  • कितना हसीन इत्तेफाक़ था तेरी गली में आने का,
    किसी काम से आये थे। किसी काम के ना रहे।

  • मेरी मोहब्बत थी यह या फिर दीवानगी की इन्तहा,
    कि तेरे ही पास से गुज़र गया तेरे ही ख्याल से।

  • ना दिल से होता है,
    ना दिमाग से होता है,
    ये प्यार तो इत्तफाक से होता है,
    पर प्यार कर के प्यार ही मिले,
    ये इत्तेफाक किसी-किसी के साथ होता है।

  • नज़र और नसीब के मिलने का इत्तेफ़ाक कुछ ऐसा है,
    नज़र को पसंद हमेशा वही चीज़ आती है,
    जो नसीब में नहीं होती।

  • इत्तेफाक से हम मिले,
    इत्तेफाक से आप हमें पसंद आए,
    इत्तेफाक से हम दोस्त बने,
    हमारी दोस्ती अब इत्तेफाक नहीं,
    जिंदगी की खूबसूरत हकीकत है।

  • दोस्ती तो सिर्फ एक इत्तेफाक है,
    ये तो दिलों की मुलाकात है,
    दोस्ती नहीं देखती,
    दिन है की रात है,
    इसमें तो सिर्फ वफादारी और जस्बात होता है

  • मिलना एक इत्तेफाक है,
    और बिछड़ना मजबूरी है,
    चार दिन की इस जिंदगी में,
    सबका साथ होना जरूरी है।

Conclusion – इत्तेफाक का मतलब होता है किसी विषय में हुए आकस्मिक और अनायास गतिविधियों या घटनाओं का सम्बंध। जीवन में इत्तेफाक कई प्रकार के हो सकते हैं, जैसे कि किसी व्यक्ति से मिलना, किसी खास अनुभव का होना। इत्तेफाक हमारे जीवन को रंगीन और रोमांचक बनाता है। यह हमें नए लोगों से मिलवाता है, नई स्थितियों का सामना कराता है, और हमारे सोचने के तरीके को परिवर्तित करता है।

इत्तेफाक हमें अचानक से कुछ नया सिखाता है और हमारे जीवन में नई दिशाओं की ओर ले जाता है। कुछ इत्तेफाक हमें खुशियों का अहसास दिलाते हैं, जबकि कुछ हमें सीखने और परिपूर्णता की दिशा में आगे बढ़ने की प्रेरणा देते हैं। तो दोस्तों आशा करते हैं आपको इस पोस्ट में सम्मिलित की गयी इत्तेफ़ाक़ शायरी पसंद आयी होगी, अपने विचार हमें जरूर बतायें और हमारी वेबसाइट Shayari Caption को ऐसी ही बेहतरीन शायरियों के लिए विजिट करते रहीं। धन्यवाद् !