Himmat Shayari in Hindi - हिम्मत और हौसला शायरी

Himmat Shayari in Hindi

(1)

परेशानियों से भागना आसान होता है,
हर  मुश्किल ज़िन्दगी में एक इम्तिहान होता है,
हिम्मत हारने वाले को कुछ नहीं मिलता ज़िंदगी में,
मुश्किलों से लड़ने वाले के क़दमों में ही तो जहाँ होता है 😎😎😎


(2)

मंजिलें उनको मिलती है,
जिनके सपनों में जान होती है,
सिर्फ पंखों से कुछ नहीं होता दोस्तों,
हौंसलों से उड़ान होती है 👊👊👊


(3)

Hausla Shayari in Hindi

ज़िन्दगी हसीं है ज़िन्दगी से प्यार करो,
हो रात तो सुबह का इंतज़ार करो,
वो पल भी आएगा जिस पल का इंतज़ार है आपको,
बस खुदा पे भरोसा और वक़्त पे ऐतबार करो…


(4)

कश्ती डूब कर निकल सकती है,
शमा बुझ कर भी जल सकती है,
मायूस ना हो इरादे ना बदल,
किस्मत किसी भी पल बदल सकती है 🤗🤗🤗


(5)

तारों में अकेला चाँद जगमगाता है,
मुश्किलों में हमेशा इंसान डगमगाता है,
काटों से घबराना मत मेरे ऐ दोस्त,
क्योंकि काटों में ही अकेला गुलाब मुस्कुराता है ☝☝☝

(6)

परिंदो को मिलेगी मंज़िल एक दिन,
ये फैले हुए उनके पर बोलते है,
और वही लोग रहते है खामोश अक्सर,
ज़माने में जिनके हुनर बोलते है 😌😌😌


(7)

सोच बदलो सितारे बदल जाएंगे,
नज़र को बदलो नजारे बदल जाएंगे,
कश्तियां बदलने की जरूरत नहीं,
दिशाओं को बदलो किनारे बदल जाएंगे 😇


(8)

जो सफर की शुरुआत करते हैं,
वो मंज़िल को पार करते हैं,
एक बार चलने का होंसला तो रखो,
मुसाफिरों का तो रस्ते भी इंतज़ार करते हैं…

Himmat Dene Wali Shayari

(9)

उन्हीं के क़दमों में ये सारा जहाँ होता है,
जिनका आशियाना बीच आसमान होता है,
फिर तो फितरत सी बन जाती है मुश्किलों से लड़ने की,
और हर मुकाम पर पहुंचना आसान होता है 😎😎😎


(10)

जिगर में हौसला सीने में जान बाकी है,
अभी छूने के लिए आसमान बाकी है,
हारकर बीच में मंज़िल के बैठने वालों,
अभी तो और सख़्त इम्तहान बाकी है..


(11)

बेहतर से बेहतर की तलाश करो,
मिल जाये नदी तो समंदर की तलाश करो,
टूट जाता है शीशा पत्थर की चोट से,
टूट जाये पत्थर ऐसा शीशा तलाश करो 👊👊👊


(12)

तू रख हौसला वो मंज़र भी आएगा,
प्यासे के पास चल के समंदर भी आयेंगा,
थक कर ना बैठ ए मंजिल के मुसाफिर,
मंजिल भी मिलेगी और मिलने का मज़ा भी आएगा 💪💪💪