Best 10 Guru Shayari in Hindi with Images - गुरु के लिए शायरी

Guru Shayari

Guru Shayari | गुरु के लिए शायरी

गुरु की उर्जा सूर्य-सी, अम्बर-सा विस्तार, गुरूदेव की गरिमा से बड़ा, नहीं कहीं आकार, गुरु का सद्सान्निध्य ही,जग में हैं उपहार, प्रस्तर को क्षण-क्षण गढ़े, मूरत हो तैयार…
गुरूदेव के श्रीचरणों में श्रद्धा सुमन संग वंदन, जिनके कृपा नीर से जीवन हुआ चंदन, धरती कहती, अंबर कहते कहती यही तराना, गुरू आप ही वो पावन नूर हैं जिनसे रौशन हुआ जमाना…
मुझे पढ़ना-लिखना सिखाने के लिए धन्यवाद, सही-गलत की पहचान सिखाने के लिए धन्यवाद, मुझे बड़े सपने देखने और आकाश को चूमने का साहस देने के लिए धन्यवाद, मेरा मित्र, गुरु और प्रकाश बनने के लिए धन्यवाद…
Read More - Student Shayari
गुरु तेरे उपकार का, कैसे चुकाऊँ मैं मोल, लाख कीमती धन भला, गुरु है मेरा अनमोल…
गुमनामी के अंधेरे में था, पहचान बना दिया, दुनिया के गम से मुझे, अनजान बना दिया, उनकी ऐसी कृपा हुई, गुरु ने मुझे एक अच्छा इंसान बना दिया…

Guru Ke Liye Shayari

भगवान ने दी ज़िंदगी, माता-पिता ने दिया प्यार, लेकिन ज़िंदगी की राह पर चलना सिखाने के लिए, अपने गुरु का हूँ मैं शुक्रगुज़ार…
Read More - Respect Shayari
सही क्या है गलत क्या है ये सबक पढ़ाते हैं आप, झूठ क्या है और सच क्या ये बात समझाते हैं आप, जब सूझता नहीं कुछ भी राहों को सरल बनाते हैं आप…
सत्य – न्याय की राह पर चलना शिक्षक हमें सिखाते हैं, जीवन संघर्षों से लड़ना शिक्षक हमें सिखाते हैं, कोटि – कोटि नमन है उस गुरु को, जो जीवन को जीना हमें सिखाते हैं…
आप से ही सीखा, आप से ही जाना, आप को ही बस हमने गुरु हैं माना, सीखा है सब कुछ बस आप से हमने, शिक्षा का मतलब बस आप से ही है जाना…
नहीं हैं शब्द कैसे करूँ धन्यवाद, बस चाहिए हर पल सबका आशीर्वाद, हूँ आज मैं जहाँ उसमे है बड़ा योगदान आप सबका, जिन्होंने दिया मुझे शिक्षा का ज्ञान…