Gam Bhari Shayari - गम की शायरी

दोस्तों हर किसी की लाइफ में कभी ना कभी तो ऐसा समय जरूर आता है जब वो अंदर से टूट जाता है। इसी गम भरी फीलिंग को बताने के लिए गम की शायरी, गम भरी शायरी और गम भरे स्टेटस की जरुरत पड़ती है तो चलिए इस पोस्ट में कुछ ऐसे ही Gam Bhari Shayari Status हम पढ़ते हैं।

Gam Bhari Shayari
गम की शायरी

(1)
एक दिन हम भी कफन ओढ़ जायेंगे,
सब रिश्ते इस जमीन के तोड़ जायेंगे,
जितना जी चाहे सता लो मुझको,
एक दिन रोता हुआ सबको छोड़ जायेंगे 💔


(2)
दर्द कितना है बता नहीं सकते,
ज़ख़्म कितने हैं दिखा नहीं सकते,
आँखों से समझ सको तो समझ लो,
आँसू गिरे हैं कितने गिना नहीं सकते….


(3)
जरा सी गलतफहमी पर,
न छोड़ो किसीअपने का दामन,
क्योंकि जिंदगी बीत जाती है,
किसी को अपना बनाने में 💔


(4)
न कर तू इतनी कोशिशे,
मेरे दर्द को समझाने की,
पहले इश्क कर फिर जख्म खा,
फिर लिख दवा मेरे दर्द की…


(5)
खुद ही रोए और खुद ही चुप हो गए,
ये सोचकर की कोई अपना होता तो रोने ना देता…

Gam Shayari in Hindi

(6)
हँसते हुए ज़ख्मों को भुलाने लगे हैं हम,
हर दर्द के निशान मिटाने लगे हैं हम,
अब और कोई ज़ुल्म सताएगा क्या भला,
ज़ुल्मों सितम को अब तो सताने लगे हैं हम 💔💔


(7)
वो तो अपने दर्द रो-रो कर सुनाते रहे,
हमारी तन्हाईयों से आँखें चुराते रहे,
और हमें बेवफ़ा का नाम मिला क्योंकि,
हम हर दर्द मुस्कुरा कर छिपाते रहे…


(8)
कहाँ कोई ऐसा मिला जिस पर हम दुनिया लुटा देते,
हर एक ने धोखा दिया, किस-किस को भुला देते,
अपने दिल का ज़ख्म दिल में ही दबाये रखा,
बयां करते तो महफ़िल को रुला देते 💔


(9)
कभी रो के मुस्कुराए कभी मुस्कुरा के रोए,
जब भी तेरी याद आई तुझे भुला के रोए,
एक तेरा ही तो नाम था जिसे हज़ार बार लिखा,
जितना लिख के खुश हुए उस से ज़यादा मिटा के रोए…


(10)
कभी कभी मोहब्बत में वादे टूट जाते हैं,
इश्क़ के कच्चे धागे टूट जाते हैं,
झूठ बोलता होगा कभी चाँद भी,
इसलिए तो रुठकर तारे टूट जाते हैं 💔💔