Dil Rota Hai Shayari - दिल रोता है शायरी

जब दिल में दर्द होता है तो दिल रोता है और उस समय आपको अपनी फीलिंग्स को शेयर करने के लिए इन शायरियों की जरुरत होती है। तो चलिए इस पोस्ट के माध्यम से हम कुछ दिल रोता है शायरी शेयर कर रहे हैं आशा है आपको पसंद आएगी।

दिल रोता है शायरी | Dil Rota Hai Shayari

(1)
खुद भी रोता है मुझे भी रुला के जाता है,
ये बारिश का मौसम उसकी याद दिला के जाता है…


(2)
उल्फ़त में कभी यह हाल होता है,
आँखें हस्ती हैं मगर दिल रोता है,
मानते हैं हम जिसे मंज़िल अपनी,
हमसफ़र उसका कोई और होता है…


(3)
नजरों से नजरों का टकराव होता है,
हर मोड़ पर किसी का इंतज़ार होता है,
दिल रोता है जख्म हँसते हैं,
इसी का नाम ही प्यार होता है…


(4)
रोज शाम मैदान में बैठ ये कहते हुए एक बच्चा रोता है,
हम गरीब हैं इसलिए हम गरीब का कोई दोस्त नहीं होता है…


(5)
इस दुनिया में कोई खुशियों की चाह में रोता है,
कोई गमो की पनाह में रोता है,
अजीब ज़िन्दगी का सिलसिला है,
कोई भरोसे के लिए रोता है,
कोई भरोसा करके रोता है…