Aadat Shayari in Hindi - आदत शायरी

Aadat Shayari in Hindi
आदत शायरी

(1)

इंतज़ार की आरज़ू अब खो गयी है,
खामोशियो की आदत हो गयी है,
न सीकवा रहा न शिकायत किसी से,
अगर है तो एक मोहब्बत,
जो इन तन्हाइयों से हो गई है…


(2)

आदत बदल दू कैसे तेरे इंतेज़ार की,
ये बात अब नही है मेरे इकतियार की,
देखा भी नही तुझ को फिर भी याद करते है,
बस ऐसी ही खुश्बू है दिल मे तेरे प्यार की..


(3)

भूलकर हमें अगर तुम रहते हो सलामत,
तो भूलके तुमको संभलना हमें भी आता है,
मेरी फ़ितरत में ये आदत नहीं है वरना,
तेरी तरह बदल जाना हमें भी आता है…


(4)

उसके साथ रहते रहते हमे चाहत सी हो गयी,
उससे बात करते करते हमे आदत सी हो गयी,
एक पल भी न मिले तो न जाने बेचैनी सी रहती है,
दोस्ती निभाते निभाते हमे मोहब्बत सी हो…


(5)

सर झुकाने की आदत नहीं है,
आँसू बहाने की आदत नहीं है,
हम खो गए तो पछताओगे बहुत,
क्युकी हमारी लौट के आने की आदत नहीं है…’

Teri Aadat Hai Shayari

(6)

बिन बात के ही रूठने की आदत है,
किसी अपने का साथ पाने की चाहत है,
आप खुश रहें, मेरा क्या है..
मैं तो आइना हूँ, मुझे तो टूटने की आदत है…


(7)

छोड़ तो सकता हूँ,
मगर..
छोड़ नहीं पाता उसे,
वो शख्स मेरी बिगड़ी हुई..
आदत की तरह है..


(8)

मुझे रुला कर सोना..
तो तेरी आदत बन गई है,
जिस दिन मेरी आँख ना खुली..
तुझे निंद से नफरत हो जायेगी….


(9)

Shayad Wo Apna Wajood,
Chod Gaya Hai Meri Hasti Mein,
Yun Sote-Sote Jaag Jana,
Meri Aadat Pehle Kabhi Na Thi….


(10)

Bhul Ke Mujhko Agar Tum Ho Salamat
To Bhul Ke Tujhko Sambhalna Muze Bhi Aata Hai,
Nahi Hai Meri Fitrat Main Yeh Aadat,
WARNA Teri Tarha Badalna Muze Bhi Aata Hai….